• Home
  • अन्य
  • सपना चौधरी के खिलाफ जारी हुआ अरेस्ट वारंट, इस मामले में उलझीं देसी क्वीन!
अन्य

सपना चौधरी के खिलाफ जारी हुआ अरेस्ट वारंट, इस मामले में उलझीं देसी क्वीन!

नई दिल्ली: हरियाणवी डांसर से बॉलीवुड तक का सफर तय करने वालीं सपना चौधरी (Sapna Chaudhary) की हर अदा उनके फैंस के दिलों को छू जाती है. लेकिन अब सपना ने कुछ ऐसा कारनामा कर दिया है, जिसके कारण दिलों पर राज करने वालीं देसी क्वीन के खिलाफ अब अरेस्ट वारंट जारी (Arrest Warrant Against Sapna Chaudhary) जारी हो चुका है. एडिशनल चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट शांतनु त्यागी (Additional Chief Judicial Magistrate Shantanu Tyagi) ने लखनऊ के एक मामले में सपना के खिलाफ ये वारंट जारी किया है.

दरअसल, लखनऊ कोर्ट में डांसर और सिंगर सपना चौधरी की एक शिकायत पर ये एक्शन हुआ है. इस मामले की अगली सुनवाई तक पुलिस को एक्शन लेने के लिए कहा है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, एडिशनल चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट शांतनु त्यागी ने इस वारंट को जारी करते हुए कहा है कि मामले की अगली सुनवाई 22 नवंबर को होगी.

सपना ने दिया था ये आवेदन

आपको बता दें कि सपना चौधरी (Sapna Chaudhary) को गिरफ्तार करके पुलिस उन्हें कोर्ट के सामने पेश करेगी. होने वाली सुनवाई में ही कोर्ट को सपना के खिलाफ सारे आरोप तय करने हैं, इसी वजह से कोर्ट में उनका मौजूद रहना जरूरी है. जानकारी के मुताबिक, इस मामले में FIR होने के बाद खुद सपना ने शिकायत को खारिज करने के लिए अर्जी दी थी, इसे अर्जी के बाद खारिज भी कर दिया गया था. लेकिन अब ये मामला फिर से खोला गया है.

क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि ये मामला 3 साल पुराना है, साल 2018 में सपना चौधरी के खिलाफ 14 अक्टूबर को आशियाना पुलिस स्टेशन में ये शिकायत की गई थी. उन्होंने यह आरोप लगाया था कि 13 अक्टूबर को लखनऊ के स्मृति उपवन में दोपहर 3 बजे से रात 10 बजे तक का शो ऑर्गेनाइज ने किया था, लेकिन इस शो में वह पहुंची ही नहीं.

इतनी कीमत में बिका था टिकट

सपना चौधरी के अलावा इस कार्यक्रम के ऑर्गेनाइजर जुनैद अहमद, नवीन शर्मा, इवाद अली, अमित पांडे और रत्नाकर उपाध्यय जैसे नाम भी शामिल हैं. अब आरोप ये है कि इस प्रोग्राम के लिए दर्शकों ने 300-300 रुपए देकर टिकट खरीदा था. सपना चौधरी के इस शो को देखने के लिए हजारों लोग मौजूद थे लेकिन जब 10 बजे तक सपना चौधरी नहीं आई तो दर्शकों ने हंगामा काटना शुरू कर दिया था. लेकिन हंगामे के बाद भी लोगों को उनके पैसे वापस नहीं मिले.

Related posts

Yagna, cow urine can kill coronavirus: Uttarakhand BJP legislator

admin

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दुर्लभ रोगों के लिए राष्ट्रीय नीति, 2021 को स्वीकृति दी

Rajasthan Samachar

सिंघाड़े के ये अचूक फायदे आपको चौंका देंगे, स्वाद के साथ सेहत भी

Rajasthan Samachar

Leave a Comment

error: Content is protected !!