• Home
  • इटावा नगर
  • सयुक्त किसान मोर्चा के भारत बन्द में व्यापारियों व जन संगठनों ने दिया भरपूर समर्थन।
इटावा नगर

सयुक्त किसान मोर्चा के भारत बन्द में व्यापारियों व जन संगठनों ने दिया भरपूर समर्थन।

इटावा 27 सितम्बर 2021 आज केंद्र की मोदी सरकार के विरोध में किये गए सयुक्त किसान मोर्चा व ट्रेड यूनियनों और जन संगठनों के भारत बन्द आंदोलन को सफल बनाने के लिए तह. पीपल्दा क्षेत्र के इटावा उपखण्ड में सयुक्त किसान मजदूर जन मोर्चा के नेतृत्व में किसानों मजदूरों छात्रों युवाओ,महिलाओं ने सुबह 6.30 से ही बाजार बंद करने की दुकानदारों से अपील की कृषि उपजमंडी व्यापारियों से भी भारत बन्द का समर्थन करने की अपील की गई भारत बन्द का समर्थन करते हुए कृषि उपजमंडी इटावा व्यापारियों ने सम्पूर्ण मंडी बन्द रखी और दुकान दुकानदारों ने भी केंद्र सरकार की आमजन विरोधी गतिविधियों का विरोध करते हुए भारत बन्द के समर्थन में सम्पूर्ण बाजार बंद रखकर सयुक्त किसान मोर्चा के बन्द को इटावा में पूर्णतया सफल बनाने में भागीदारी सुनिश्चित की ।

विडिओ यहां देखे

अखिल भारतीय किसान सभा तह.सचिव कमल बागडी ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा जो कृषि विरोधी तीन काले कानून जबरदस्ती किसानों पर थोपकर किसानों को बर्बाद करने की साजिस रची गई थी उसकी सचाई आमजनता के सामने इस कमरतोड़ महगाई ने उजागर कर दी है । खेती व किसानी को बर्बाद करने वाले तीनो काले कानूनों को रदद् कराने की मांग को लेकर सम्पूर्ण देश का किसान पिछले 10 महीनों से दिल्ली की बोर्डरों पर संघर्षरत है लेकिन भाजपा की केंद्र सरकार को किसानों की कोई चिंता नही है इस आंदोलन में 700 किसान शहीद हो चुके हैं लेकिन मोदी जी के पास उनको श्रद्धांजलि देने का वक्त नही है मोदी जी को सिर्फ अपने दोस्तों अडानी अम्बानी की फिक्र है कैसे उनके हाथों में देश की भागडोर सौपी जाए ताकि किसानों मजदूरों के साथ साथ देश की 140 करोड़ जनता को पुंजिपतियो की गुलामी करने को मजबुर किया जा सके जिसका विरोध करने के लिए आज सयुक्त किसान मोर्चा के आव्हान पर किये जा रहे भारत बन्द के समर्थन में सम्पूर्ण इटावा बन्द किया है। आज के प्रदर्शन में स्थानीय समस्या अतिवृष्टी से नष्ट मकानों के मुहावजा राशि से वंचित परिवारों को सूची में शामिल करवाने और अतिवृष्टी से नष्ट फसलो के बीमा क्लेम राशि व सरकारी आदान अनुदान राशि अतिशीघ्र किसानों के खातों में जारी करने की मांग को लेकर शासन प्रशासन को 7 दिवस का समय देते हुए चेतावनी दी अगर मांगो पर नही दिया तो सयुक्त किसान मोर्चा इटावा में अनिश्चित कालीन धरना या भूख हड़ताल जैसा कदम उठाने को मजबूर होगा जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।
मजदूर नेता कामरेड मुरारीलाल बैरवा ने बताया कि किसानों के भारत बन्द के समर्थन ट्रेड यूनियनों व जन संगठनों के साथ राजनेतिक पार्टियों ने भी बन्द का समर्थन किया है इटावा बन्द के दौरान सुबह 6 बजे से ही निर्माण मजदूर यूनियन सीटू, अम्बेडकर चेतना मिशन, मानव कल्याण सत्यप्रेम भाईचारा मिशन,भीम आर्मी व सिलाई युनियन के सैकड़ो कार्यकर्ताओ ने मोटरसाइकिलो कि इटावा नगर के मुख्य बाजारों में रैली निकालकर कर बाजार बंद करने की लोगो से अपील की दोपहर एक बजे सीटू कार्यालय गैंता रोड से सैकड़ो किसानों मजदूरों , छात्र,युवाओ ओर महिलाओं द्वारा भारत बन्द के समर्थन में उपखण्ड कार्यालय तक रैली निकालकर उपखण्ड कार्यालय पर सभा की जिसमे अखिल भारतीय किसान सभा अध्यक्ष महेंद्रकुमार सुमन,सीटू अध्यक्ष अमोलक चन्द महावर,महामंत्री मुरारीलाल बैरवा, भाईचारा मिशन सयोजक राधेश्याम परालिया, अम्बेडकर चेतना मिशन अध्यक्ष सुरेशकुमार महावर, प्रेमशंकर बैरवा, भीम आर्मी ब्लाक अध्यक्ष राहुल गोमे,वरीष्ठ जिला उपाध्यक्ष महेंद्रपाल मूलनिवासी, सिलाई युनियन अध्यक्ष सुरेशकुमार , कामरेड मुकुट बिहारी जंगम, डी वाई एफ़ आई सदस्य रमेशचंद,किसान नेता दिलीप मीणा, नागेन्द्र नायक, कामरेड देवीशंकर, महिला मोर्चा सदस्य मौसमी मीणा ने संबोधित किया और खातोली जॉन के किसानसभा सयोजक भवानीशंकर कुशवाह ने उपखण्ड कार्यालय पर भारत बन्द प्रदर्शन के माध्यम से सरकार से मांग करते हुए कहा कि अगर बालुपा से छुआरी धाम सब्ग्रामपुरा तक सड़क निर्माण नही किया गया तो आगामी पंचायतराज के चुनाव का संग्रामपुर निवासी अपने मतो का बहिष्कार करेगे इस बात को लेकर सरकार को चेतावनी दी। सयुक्त किसान मजदूर जन मोर्चा के प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने किसानों मजदूरों व आमजन की मांगों का राष्ट्रपति के नाम का 17 सूत्रीय मांग पत्र ज्ञापन उपखण्ड अधिकारी इटावा को सौपा इस अवसर पर सैकड़ो किसान,मजदूर, छात्र,और महिलाएं व अन्य सामाजिक जन संगठनों के कार्यकर्ता ,सीटू यूंनियन कार्यकर्ता उपखण्ड कार्यालय पर मौजूद रहे
सयुक्त किसान मजदूर जन मोर्चा की मुख्य मांगे इस प्रकार से है:-
1. किसान विरोधी तीनो काले कानून रदद् करो। 2. C2+50℅ फार्मूले के साथ किसानों की सम्पूर्ण उपज की खरीद करने का गारन्टी कानून लागू करो। 3. 44 श्रम कानूनों को खत्म कर के लाये गए मजदूर विरोधी चारो लेबर कोड बिल रदद् करो।4. बिजली संशोधन बिल 2020 वापस लो। 5.नगरपालिका इटावा ,व पंचायत समिति इटावा में अतिवृष्टी से नष्ट मकानों के मुहावजे की जारी लिस्ट में गड़बड़ी के चलते दोबारा सर्वे कराकर वंचित परिवारों को मुहावजा लिस्ट में जोड़ा जाए।
6. किसानों की नष्ट फसलो का 100℅ बीमा क्लेम् दो, 7. हर गरीब परिवार को 10 किलोग्राम अनाज व आवश्यक वस्तुओं का निःशुल्क वितरण अगले 6 माह तक किया जावे।8 सभी पंजीकृत निर्माण मजदूरों को को हर माह 7500 रुपये लागू करो व अन्य मांगे भी शामिल है।

 

Related posts

राहुल गांधी जी के जन्मदिन इटावा में कोरोनावरियर्स किया सम्मान

Rajasthan Samachar

इटावा में पटाखे विक्रय का लाइसेंस नहीं होगा जारी

Rajasthan Samachar

प्रशासन गावों के संग अभियान को लेकर एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

Rajasthan Samachar

Leave a Comment

error: Content is protected !!