• Home
  • अन्य
  • इटावा मे किसान मजदूरों ने प्रदर्शन किया
अन्य

इटावा मे किसान मजदूरों ने प्रदर्शन किया

सीटू यूंनियन महामंत्री मुरारीलालबैरवा ने बताया कि आज अखिल भारतीय किसान सभा तहसील कमेटी पदाधिकारियों जागरूक किसान कार्यकर्ताओं की सीटू कार्यालय इटावा पर बैठक संपन्न हुई बैठक में मुख्य वक्ता के रूप में जिला सचिव कामरेड हंसराज चौधरी उपस्थित रहे

जिला सचिव हंसराज चौधरी ने बैठक में किसानों मजदूरों को संबोधित करते हुए कहा कि आपातकाल इमरजेंसी 1975 को 46 वर्ष हो गए , आज 26 जून को पूरे देश के अंदर संयुक्त किसान मोर्चा के आव्हान पर किसान संगठनों,और मजदूर संगठनों द्वारा खेती बचाओ लोकतंत्र बचाओ दिवस के रूप में मनाते हुए केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ किसानों मजदूरों ने नारेबाजी कर सयुक्त रूप से अखिल भारतीय किसान सभा और निर्माण मजदूर यूनियन सीटू के बैनर तले प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया जा रहा है उन्होंने कहा कि आज देश के अंदर किसान आंदोलन को 7 महीने पूरे होने जा रहे हैं लेकिन निर्दई जन विरोधी मोदी सरकार किसानों की वाजिब मांगों को मानने को तैयार नहीं और देश में अघोषित इमरजेंसी जैसा माहौल बनाकर किसान आंदोलन को तोड़ने की कोशिश की जा रही है लेकिन यह इस देश का किसान आंदोलन एक जन आंदोलन के रूप में इस मोदी सरकार के खिलाफ पूरे देश में लड़ा जा रहा है और मोदी सरकार को किसान विरोधी तीनों काले कानून , मजदूर विरोधी चारो श्रम सहिंताओ और बिजली संशोधन अध्यादेश 2021 को वापस लेने पढ़ेंगे और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद का गारंटी कानून बनाना ही पड़ेगा तभी जाकर किसान आंदोलन खत्म होगा क्योंकि आज किसान की खेती को बचाने और लोकतंत्र को बचाने का सवाल है अतः आज हमें किसानों मजदूरों के संगठनों को मजबूत करने के लिए हर गांव तक संगठन को ले जाने की आवश्यकता है इसके लिए आगामी दिनों में संगठन का निर्माण करने हेतु सदस्यता अभियान चलाकर संगठन को मजबूत बनाया जाएगा

तहसील अध्यक्ष महेंद्र सुमन ने बताया कि आज इटावा में भी केंद्र के मोदी सरकार के खिलाफ किसान मजदूर कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की और राष्ट्रपति के नाम इटावा उपखंड अधिकारी को ज्ञापन देने हेतु उपखंड अधिकारी इटावा कार्यालय पहुंचे लेकिन इटावा उपखंड अधिकारी ने राष्ट्रीय कॉल किसानों का होने के बावजूद छुट्टी की बात कह कर घर पर मौजूद होने के बावजूद राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन लेने से मना किया जो की हमारे देश के महा महिम राष्ट्रपति पद की गरिमा को ठेस पहुंचाने वाला है जिसको लेकर किसान सभा पदाधिकारियों व किसान कार्यकर्ताओं को उपखंड अधिकारी के इस रवैए के खिलाफ आक्रोश पैदा हो गया और ज्ञापन को उपखंड परिसर में चस्पा किया गया

तहसील सचिव कमल बागड़ी ने बताया आने वाले दिनों में पीपल्दा तहसील से किसान शाजापुर बॉर्डर के लिए तैयारी करेगा और सैकड़ों की संख्या में पीपल्दा तहसील से किसान शाजापुर बॉर्डर पर पहुंचेंगे बैठक में राधेश्याम परालिया गुलाब चंद मीणा मुरारी लाल बेरवा कालू लाल अखंड मुकुट बिहारी जंगम दुलीचंद आर्य बालमुकुंद बेरवा सूरज मल मीणा रामचरण मीणा सीताराम मीणा हंसराज महावर गोबरी लाल गहलोत राम कुमार महावर दौलत राम मीणा भवानी शंकर कुशवाहा धनराज बैरवा,प्रेमपेन्टर, बाबूलाल मीणा नंदकिशोर प्रजापत लड्डू लाल प्रजापत चेतन मीणा का.देवीशंकर महावर , का. गोपाललाल,सुरेश सत्यनारायण मीणा बनवारी लाल मीणा

 

Related posts

WADA monitoring coronavirus-hit areas for dope test gaps

admin

JEE (Mains) और NEET की परीक्षा स्‍थगित नहीं करना चाहती सरकार: सूत्र

Rajasthan Samachar

बडौद में तहसीलदार आमोद कुमार ने विद्यालय व मदरसा का किया औचक निरीक्षण

Rajasthan Samachar

Leave a Comment

error: Content is protected !!