• Home
  • राष्ट्रीय
  • हाथरस के लिए निकले राहुल-प्रियंका, पुलिस ने DND किया बंद, धारा 144 लागू
राष्ट्रीय

हाथरस के लिए निकले राहुल-प्रियंका, पुलिस ने DND किया बंद, धारा 144 लागू

हाथरस के लिए निकले राहुल-प्रियंका, पुलिस ने DND किया बंद, धारा 144 लागू

नई दिल्‍ली: कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी एक बार फिर हाथरस के लिए रवाना हो चुकी हैं। हालांकि यूपी पुलिस ने उनको रोकने के लिए डीएनडी को पूरी तरह बंद कर दिया गया। बताया जा रहा है कि दिल्ली से नोएडा की तरफ एक भी गाड़ी डीएनडी से होकर नहीं आ सकती है।

इसके साथ ही नोएडा में दिल्ली-उत्तर प्रदेश की सीमा पर कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को रोकने के लिए पुलिस की एक बड़ी टुकड़ी तैनात कर दी गई है। दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट (DND) फ्लाईवे पर बैरिकेड्स लगाए गए थे, क्योंकि कांग्रेस कार्यकर्ता गौतमबुद्धनगर में सीआरपीसी की धारा 144 लागू होने के बावजूद वहां पहुंचे थे।

प्रियंका गांधी हाथरस की तरफ खुद कार चलाकर जा रही है और साथ में राहुल गांधी और कांग्रेस के सांसद बैठे हैं। दोनों दोपहर करीब 2.30 बजे अपने दिल्ली स्थित निवास से बाहर निकले, जिसमें प्रियंका गांधी एक टोयोटा इनोवा चला रही है और राहुल गांधी उनके साथ वाली सीट पर बैठे थे। पार्टी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल युवती के परिवार से बात करना चाहता है। राहुल गांधी ने आज सुबह ट्वीट किया, “दुनिया के कुछ भी लोग इस दुख से पीड़ित परिवार से मिलने के लिए हाथरस जाने से नहीं रोक सकते।”

कुछ ही समय बाद हाथरस के संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने कहा कि राहुल गांधी को गांव में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। क्‍योंकि यहां पर बड़े समारोहों पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रतिबंधात्मक आदेश लागू हैं।

वहीं सीएम योगी आदित्‍यनाथ के निर्देश पर यूपी एसीएस अवनीश अवस्थी और डीजीपी एचसी अवस्थी पीड़ित परिवार से मिलने के लिए हाथरस उनके घर पहुंचे है।

स्‍मृति का वाराणसी में विरोध

एक प्रेस कांफ्रेंस करके राहुल गांधी पर निशाना साधने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के काफिले को विरोध प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आज वाराणसी में रोक दिया। उन्‍होंने स्‍मृति को चुड़‍ियां भेट करके अपना विरोध जताया।

पत्रकारों को गांव में जाने की मिली इजाजत

इससे पहले पत्रकारों को उत्तर प्रदेश प्रशासन द्वारा विशेष जांच दल (एसआईटी) के मामले में अपनी जांच पूरी करने के बाद गांव में प्रवेश करने की अनुमति दी गई थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी और डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी सहित वरिष्ठ अधिकारियों को पीड़ित के परिवार से मिलने के लिए भेजा है।

युवती के दाह संस्कार के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने हाथरस के पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर सहित तीन पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर दिया। एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि आरोपी, पीड़ित के रिश्तेदारों और जांच में शामिल पुलिस अधिकारियों पर पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट किए जाएंगे।

 

Related posts

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता, LeT के टॉप कमांडर समेत कुल 4 आतंकी मार गिराए

Rajasthan Samachar

इलाहाबाद अब से प्रयागराज, उत्तर प्रदेश के राज्‍यपाल राम नाईक ने दी मंजूरी

Rajasthan Samachar

स्कूली छात्रों के लिए इसरो कर रहा है प्रतियोगिताओं का आयोजन

Rajasthan Samachar

Leave a Comment

error: Content is protected !!