• Home
  • विचार-आलेख
  • ये कहाँ का न्याय है “मालिक” UP में बिल माफी और राजस्थान में पैनल्टी की धमकी
विचार-आलेख

ये कहाँ का न्याय है “मालिक” UP में बिल माफी और राजस्थान में पैनल्टी की धमकी

ये कहाँ का न्याय है “मालिक” UP में बिल माफी और राजस्थान में पैनल्टी की धमकी

24 मई-  सुरेश महावर  ✒️✒️✒️✒️✒️

लॉकडाउन के दौरान सभी वर्ग के लोगों की आर्थिक स्थिति चरमरा गई है जिस कारण सभी लोग अपने जेब खर्च में कटौती कर रहे हैं। राज्य से लेकर केंद्र की सरकार कॉरपोरेट सेक्टर के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान कर चुकी है जबकि गरीब मजदूर की स्थिति ज्यों की त्यों बनी हुई है। अब तो हालात ये हो चुके हैं कि लोग अपनी जरूरत की बिजली के बिल भी जमा कराने में असमर्थ हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 4 माह के लिए बिजली के बिल व ट्यूबवेल के बिल माफ करने का आग्रह किया है साथ ही बिजली बिलों पर पेनल्टी भी माफ आदि की मांग की है।
यह मांग प्रियंका गांधी की राजनीति से ओतप्रोत है क्योंकि जब गांधी उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार से बिजली के बिलों को माफ करने की मांग कर सकती है तो उनकी पार्टी शासित राज्य राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि 3 महीने का बिजली बिल एक साथ भरना पड़ेगा अगर 31 मई तक भी जमा नहीं करवाया तो पूरे 3 महीने की बिलिंग राशि पर 2 फीसदी पेनल्टी देने की धमकी दी है।
जब प्रियंका गांधी यूपी की भाजपा सरकार से 3 महीने की बिजली के बिलों को माफ करने की मांग कर सकती हैं तो उन्हीं की पार्टी के शासित राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बिजली के बिल माफ करने की मांग क्यों नहीं करती।

 

Related posts

Baaghi 3 box office day 1: Tiger Shroff film is biggest opener of the year despite coronavirus scare, earns Rs 17 cr

admin

Man jailed for licking ice cream for social media stunt

admin

समाज के सबसे निचले पायदान पर खड़े दलितों को अर्थव्यवस्था में भी कोई जगह मयस्सर नहीं

Rajasthan Samachar

Leave a Comment

error: Content is protected !!