व्यापार-वाणिज्य

कोटा जिले के खरीद केंद्रों की खरीद क्षमता में वृद्धि की गई

कोटा जिले मे न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं चना सरसों का खरीद कार्य जारी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन व संयुक्त राष्ट्र द्वारा कोरोनावायरस संक्रमण को सर्वव्यापी महामारी घोषित किया गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण से आमजन को सुरक्षा प्रदान करने के लिए लॉक डाउन जारी हे। कोटा जिले में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर जारी खरीद केंद्र पर कम क्षमता को बढ़ाए जाने की आवश्यकता को देखते हुए निम्नानुसार केंद्रों की कम क्षमता में वृद्धि की गई।
पीपल्दा तहसील के इटावा खरीद केंद्र की वर्तमान क्षमता 3500 से बढ़ाकर 5000, खातौली 1500 से 2000,अयाना 2000 से 3000, भामाशाह मंडी 2000 से 4000 कि गई है
दीगोद तहसील के सुल्तानपुर मे 3000 से 4000, मंडावरा मे 2000 से 3000, सीमलिया मे 1000 से 2000, कोटडादीपसिहं मे 500 से 1000 कि गई।

दीगोद तहसील के सुल्तानपुर मे 3000 से 4000, मंडावरा मे 2000 से 3000, सीमलिया मे 1000 से 2000, कोटडादीपसिहं मे 500 से 1000,भामाशाह मंडी मे 2000 से 4000 गरीद क्षमता कि गई।
सांगोद तहसील मे सांगोद व कुन्दनपुर मे 1500 से 2500 को गई।
कनवास तहसील मे पानाहेडा जालिमपुरा,खजूरी मे 1000 से 2000, आंवा व झालरी 500 से 1000 कि गई है।
रामगंजमंडी तहसील के मोडक मे 500 से 1500 कि गई है।
लाडपुरा तहसील के भगवानपुरा व मोरपा मे 1000 से 2000, भामाशाह मंडी में 4000 से 7000 खरीद क्षमता कि गई है।

Related posts

आनंद राठी वेल्थ का आईपीओ दो दिसंबर को खुलेगा, मूल्य दायरा 530-550 रुपये प्रति शेयर

Rajasthan Samachar

कैबिनेट ने सार्वजनिक क्षेत्र की तीन सामान्य बीमा कंपनियों-ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड, नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड और यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के लिए पूंजी उपलब्ध कराने को मंजूरी दी

Rajasthan Samachar

चालू वित्त वर्ष के पहले नौ माह में सोने का आयात दोगुना से अधिक होकर 38 अरब डॉलर पर

Rajasthan Samachar

Leave a Comment

error: Content is protected !!